आदरणीय सुशील मोदी जी रोजगार नहीं दे सकते तो कम से कम बिहारियों को शर्मिंदा करने वाला बयान तो मत दीजिएखबरें

आदरणीय सुशील मोदी जी रोजगार नहीं दे सकते तो कम से कम बिहारियों को शर्मिंदा करने वाला बयान तो मत दीजिए

जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल-370 हटाने के बाद और राज्य को दो केंद्र शासित प्रदेशों में बांटने के बाद जम्मू-कश्मीर छोड़ पूरे…

बतौर समाज गर्व करने वाली इन तस्वीरों और एक सार्थक पहल की कहानी…खबरें

बतौर समाज गर्व करने वाली इन तस्वीरों और एक सार्थक पहल की कहानी…

‘सबसे छोटे ताबूत सबसे भारी होते हैं – Smallest Coffins are the heaviest’ सरकारी आंकड़े के मुताबिक तीन जून से…

कश्मीर में पबजी जैसे गेम का बैन होना सुकून की बात क्यों है?Uncategorized

कश्मीर में पबजी जैसे गेम का बैन होना सुकून की बात क्यों है?

कल से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कश्मीर के लोग एक लेटर डाल रहे हैं. उस लेटर में कश्मीर में ‘प्लेयर…

साल 2018 बिहार की महिलाओं के लिए हिंसा भरा रहा,  इस उम्मीद में कि 2019 कुछ अच्छा लेकर आएखबरें

साल 2018 बिहार की महिलाओं के लिए हिंसा भरा रहा, इस उम्मीद में कि 2019 कुछ अच्छा लेकर आए

देश में महिलाओं के प्रति हिंसा में दिन पर दिन बढ़ोत्तरी हो रही है. अभी हम सब महिलाओं के प्रति…

शौच मुक्त बोर्ड लगने से पहले ‘हगना गाड़ी’ गांव में खूब घूमी लेकिन उसके बाद की कहानी अलग हैजिला- जवार

शौच मुक्त बोर्ड लगने से पहले ‘हगना गाड़ी’ गांव में खूब घूमी लेकिन उसके बाद की कहानी अलग है

बिहार के 38 जिलों में से एक जिला है पूर्वी चंपारण. जिसे मोतिहारी के नाम से भी जाना जाता है.…